No icon

चुनाव

चुनाव आयोग ने कहा नहीं टलेंगे यूपी के चुनाव, स्वास्थ्य मंत्रालय से मांगी रिपोर्ट


दिल्ली। कोरोना की तीसरी लहर के फरवरी तक और तेज होने के संकेत मिलने पर लोग यूपी चुनाव टलने के कयास लगा रहें है। वहीं उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बीते 27 दिसम्बर को दिल्ली पहुंचे चुनाव आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों ने फिलहाल इसके टालने पर असहमति व्यक्त की है। अंदरखाने की खबर मुताबिक आयोग ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है इसके बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा। मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव से चुनावी राज्यों में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण बढ़ाने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, मणिपुर, गोवा के चुनाव एक साथ होना है। स्वास्थ्य सचिव के साथ बैठक कर मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि वे तीन दिवसीय दौरे पर लखनऊ रहेंगे। उनके साथ चुनाव आयुक्त राजीव कुमार व अनूपचंद्र पांडेय भी रहेंगे। गौरतलब है प्रयागराज उच्चन्यायालय ने मुख्यमंत्री योगी से यूपी चुनाव टालने पर विचार करने को कहा था। आयोग मंगलवार को राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों व केंद्रीय, राज्य पुलिस बल के आला अफसरों के साथ बैठक करेगा। वहीं अगले दिन डीएम,एसपी के साथ बैठक होगी। बतलाते चले कि उच्चन्यायालय के जज द्वारा यूपी चुनाव टालने पर सपा नेता रामगोपाल यादव ने तंज कसते हुए सुप्रीम कोर्ट से संबंधित न्यायाधीश पर स्वतः संज्ञान लेकर कार्यवाही की मांग उठाई थी। उन्होंने दावा किया था बीजेपी सूबे में चुनाव हार रही है इसलिए न्यायालय के न्यायधीश भी चिंतित है। अलबत्ता सियासत किसकी होगी यह तो जनता को तय करना है लेकिन चुनाव आयोग के इस दौरे से यूपी में अब और तेज जनसभा व नेताओं की बयानबाजी माहौल गर्म करेगी।

Comment As:

Comment ()